नक्कारखाने में तूती

19 अक्तूबर 2019   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (540 बार पढ़ा जा चुका है)

नक्कारखाने में तूती

नक्कारखाने में तूती

दिनेश डाक्टर

कुछ दिनों से कुछ मित्र धार्मिक वैमनस्य और अलगाव बढ़ाने वाली हिन्दू मुसलमान वाली पोस्ट्स शेयर कर रहे हैं । पहले मैंने सोचा कि उन्हें ब्लॉक कर दूं या उस प्रकार के ग्रुप्स छोड़ दूं । पर गहन विचार करने से इस निर्णय पर पहुंचा कि यह समाधान नहीं होगा क्योंकि ये लोग बिना इस प्रकार की पोस्ट्स की तह में गए उन्हें सिर्फ धार्मिक उन्माद की रौ में बह कर आदतन शेयर कर रहे हैं ।

मै आज उन सब मित्रों से विनम्रता से यह प्रश्न करना चाहता हूं कि क्या कभी उन्होंने इस पर विचार किया है कि इस प्रकार की पोस्ट्स कहां से आ रही है और कौन लिख रहा है । एक श्रृंखला है जिसमें सब बस शेयर ही कर रहे है बगैर यह जाने और समझे कि ऐसी पोस्ट्स कौन और किस उद्देश्य से लिख रहा है । अगर आप समझते है कि ऐसी पोस्ट्स सिर्फ हिन्दुओं में ही शेयर की जा रही है तो गलतफहमी में न रहें । मुसलमानों में इससे भी ज्यादा घृणा पूर्ण और डर पैदा करने वाली पोस्ट्स दिन रात शेयर की जा रही है । और बदकिस्मती से मुसलमान भी बिना सोचे समझे ऐसे ही शेयर कर रहे है जैसे हिन्दू । बस हिन्दू और मुसलमान एक सावधानी ज़रूर बरत रहे हैं । हिन्दू उसे मुसलमान परिचितों से शेयर नहीं करता और मुसलमान उसे हिन्दू दोस्तों से ।

पर हम जो थोड़ा पढ़े लिखे है और खुद को समझदार समझते है, क्या इस बात पर विचार करने के लिए वक़्त निकालेंगे कि जो लोग इस तरह की पोस्ट्स लिख कर दोनों ही तरफ वायरल कर रहे है , उनका मकसद और मंशा क्या है ?

अगर आप विचार करेंगे तो आपको इस देश में बहुत सी दुखद घटनाओं की पूरी कैमिस्ट्री समझ में आ जाएगी । चाहे ट्रेन के डिब्बों में आग लगाकर लोगों को मारना हो या गुजरात के दंगे । बंबई के ब्लास्ट्स हो या भिवंडी बाज़ार का मौत का तांडव । उन सबको और गिनाने की जरूरत नहीं क्योंकि वो सब आपकी, मेरी और सबकी याददाश्त में खौफ की तह में अच्छे से मौजूद है ।

जब तक हम सब "वे लोग" और "हम लोग" की जहनियत से ऊपर उठ कर इस देश और इसमें बसने वाली हमारी आने वाली पीढ़ियों की सुरक्षा और अच्छे भविष्य के लिए पॉजिटिव सोच नहीं रखेंगे तब तक इस मुल्क पर हर जगह हिंसा का खतरा मंडराता ही रहेगा

। इस पॉजिटिव सोच के लिए जरूरी है कि इस तरह की भड़काने वाली पोस्ट्स को शेयर करने के बजाय उससे सवाल करें, जिसने आप से ये पोस्ट शेयर की । तह तक पहुंचने की कोशिश करें कि कौन लोग है और उनका क्या इरादा है जो इस तरह की पोस्ट्स लिख कर शेयर कर रहे हैं । इस बात की परवाह न करें कि आपकी आवाज नक्कारखाने में तूती से भी कम है और कुछ लोग आप पर धर्म या मजहब के लिए खड़े न होने की लानत डालेंगे ।

आपको पता भी है कि दूर तक फैले अंधेरे में एक टिमटिमाता दिया कितनों का हौसला बढ़ाता है ?

(डॉ दिनेश शर्मा)

अगला लेख: ध्यान - खोज मन के भीतर - स्वामी वेदभारती जी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 अक्तूबर 2019
ध्यानऔर इसका अभ्यासकिसी विषय पर मनन करना अथवा सोचनाध्यान नहीं है :चिन्तन, मनन – विशेष रूप से कुछप्रेरणादायक विषयों जैसे सत्य, शान्ति और प्रेम आदिके विषय में सोचना विचारना अर्थात मनन करना – चिन्तन करना – सहायक हो सकता है, किन्तु यह ध्यान की प्रक्रिया से भिन्न प्रक्रिया है | मनन करने में आपअपने मन को
12 अक्तूबर 2019
14 अक्तूबर 2019
साल 1992 से राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद चल रहा है और इसपर आज तक कोई फैसला नहीं लिया गया। अयोध्या में उस स्थान पर मंदिर बनेगा या मस्जिद होगी ये कहा जाना अभी मुश्किल है लेकिन बहुत जल्द ऐसा समय आने वाला जब किसी एक के हक में फैसला आ जाएगा। अभी सुनवाई का दौर सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और इस संभाव
14 अक्तूबर 2019
05 अक्तूबर 2019
नवरात्र और कन्या पूजनशारदीय नवरात्र हों या चैत्र नवरात्र – माँ भगवती को उनके नौ रूपोंके साथ आमन्त्रित करके उन्हें स्थापित किया जाता है और फिर कन्या अथवा कुमारी पूजनके साथ उन्हें विदा किया जाता है | कन्या पूजन किये बिना नवरात्रों की पूजा अधूरीमानी जाती है | प्रायः अष्टमी और नवमी को कन्या पूजन का विधा
05 अक्तूबर 2019
16 अक्तूबर 2019
प्यार भरे कुछ दीप जलाओदीपमालिका काप्रकाशमय पर्व बस आने ही वाला है... कल करवाचौथ के साथ उसका आरम्भ तो हो हीजाएगा... यों तो श्रद्धापर्व का श्राद्ध पक्ष बीतते ही नवरात्रों के साथ त्यौहारोंकी मस्ती और भागमभाग शुरू हो जाती है... तो आइये हम सभी स्नेहपगी बाती के प्रकाशसे युक्त मन के दीप प्रज्वलित करते हुए
16 अक्तूबर 2019
10 अक्तूबर 2019
Bigg Boss-13 की शुरुआत हो चुकी है और ऐसे में घर में आने वाले कंटेस्टेंट्स का भी अपना-अपना शुरु हो गया। कोई खुद को अच्छा दिखाने में लगा है तो कोई बुरा बताना चाहता है। इस शो में यही तो खासियत है कि जो प्रतियोगी जितना लड़ते-झगड़ते हैं उन्हें उतना ही देखा जाना पसंद किया जाता है। बिग बॉस सीजन 11 में सलमा
10 अक्तूबर 2019
12 अक्तूबर 2019
दु
दुनिया युद्ध के महाविनाश की ओर जा रही है।यदि ऐसा हुआ तो किसी न किसी रुप में हम सभी प्रभावित होंगे।वैसे ही दुनिया में लोग अनेकानेक कारणों से दुखी हैं।हम में से बहुत लोग ऐसे हैं जिन्हे कोई न कोई दुख है।हम मिलकर उनका समाधान खोज सकते हैं और दुखों से बचाव कर सकते हैं।कम से कम हम चर्चा तो करें।कोई न कोई स
12 अक्तूबर 2019
06 अक्तूबर 2019
7 से 13 अक्टूबर2019 तक का साप्ताहिकराशिफलनीचे दिया राशिफल चन्द्रमा की राशि परआधारित है और आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिए सही ही हो – क्योंकि लगभग सवा दो दिनचन्द्रमा एक राशि में रहता है और उस सवा दो दिनों की अवधि में न जाने कितने लोगोंका जन्म होता है | साथ ही ये फलकथन केवलग्रहों के तात्कालिक गोचर पर आ
06 अक्तूबर 2019
09 अक्तूबर 2019
ध्यानऔर इसका अभ्यासध्यान – खोज मन के भीतर :जीवन का यदि हम स्पष्ट रूप से अवलोकनकरें तो हम पाएँगे कि हमें बचपन से ही केवल बाह्य जगत की वस्तुओं को परखना औरपहचानना सिखाया गया है और किसी ने भी हमें यह नहीं सिखाया कि अपने भीतर कैसेझाँकें, कैसे अपने भीतर खोज करें और कैसे अपने भीतर के उस परम सत्य को जानें |
09 अक्तूबर 2019
11 अक्तूबर 2019
दिल्ली मेट्रो भारत की सबसे बड़ी बड़ी मेट्रो लाइन है और ऐसे में दिल्ली सरकार कई तरह की स्कीम इसमें चलाती रहती है। पिछले दिनों दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने महिलाओं के लिए मेट्रो का सफर फ्री कर दिया है हालांकि अभी ये लागू नहीं किया गया है। अब दिल्ली मेट्रो से एक ऐसी खबर आ रही है जिससे मेट्र
11 अक्तूबर 2019
14 अक्तूबर 2019
16 दिसंबर, 2012 को भारत की राजधानी से ऐसी खबर आई जिसने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया। 16 दिसंबर की रात करीब 9.30 बजे चलती बस में एक 22 साल की लड़की के साथ 5 आदमियों ने बलात्कार किया और फिर उसे और उसके दोस्त को आधा मरा हुआ सड़क के किनारे फेंक दिया। इस वारदात के बाद पूरे देश में बलात्कार को लेकर सख्त क
14 अक्तूबर 2019
11 अक्तूबर 2019
शरद पूर्णिमारविवार तेरह अक्तूबरको आश्विन मास की पूर्णिमा, जिसे शरद पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है का मोहकपर्व है | और इसके साथ ही पन्द्रह दिनों बाद आने वाले दीपोत्सव की चहल पहल आरम्भहो जाएगी | आज अर्द्धरात्र्योत्तर 12:36 परपूर्णिमा तिथि आरम्भ होगी और कल अर्द्धरात्र्योत्तर 2:38 तकरहेगी | देश के अलग
11 अक्तूबर 2019
12 अक्तूबर 2019
अभी मुझे खिलते जाना है नहींअभी है पूर्ण साधना, अभी मुझे बढ़ते जाना है |जगमें नेह गन्ध फैलाते अभी मुझे खिलते जाना है ||मैं प्रथमकिरण के रथ पर चढ़ निकली थी इस निर्जन पथ पर ग्रहनक्षत्रों पर छोड़ रही अपने पदचिह्नों को अविचल |नहींप्रश्न दो चार दिवस का, मुझको बड़ी दूर जाना है जगमें नेह गन्ध फैलाते अभी मुझे खि
12 अक्तूबर 2019
11 अक्तूबर 2019
अक्सर आम लोगों में पेट्रोल और डीज़ल के भाव को लेकर सरकार से नाराजगी होती है। पेट्रोल और डीजल से लोगों की भावनाएं जैसे जुड़ी रहती हैं क्योंकि इसके बिना लोगों को काफी समस्या होती है खासकर जिनके पास अपनी गाड़ी होती है। सरकार ने अब नई पेट्रोल और डीजल की कीमत बताई है जो आपको जरूर जाननी चाहिए। आम आदमी को
11 अक्तूबर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x