Amazon के मालिक Jeff Bezos इस तरह बने दुनिया के सबसे अमीर आदमी

24 दिसम्बर 2019   |  स्नेहा दुबे   (457 बार पढ़ा जा चुका है)

Amazon के मालिक Jeff Bezos इस तरह बने दुनिया के सबसे अमीर आदमी

इंसान अपने जीवन में जो कुछ भी चाहता है वो कर सकता है बस उसके अंदर कुछ कर दिखाने की प्रेरणा कहीं से आनी चाहिए। हर इंसान बड़ा आदमी बनना चाहता है लेकिन ऊंचाईयों तक वो ही जाता है जो जिसके इरादे कुछ हटके हों और Jeff Bezos उन्हीं में से एक हैं। हर किसी की तरह जैफ बेजोस ने भी अपने करियर की शुरुआत एक नौकरी से की लेकिन जब उन्हें लगा कि नौकरी करके वे अपने सपनों को पूरा नहीं कर सकते तो उन्होंने नौकरी छोड़कर गैराज से अपने सपनों की उड़ान भरने शुरु किए। फिर धीरे-धीरे उनकी उड़ान ने ऐसी रफ्तार पकड़ी की उन्हें पीछे छोड़ना मुश्किल हो गया। इनके बारे में विस्तार से बताने से पहले आपको बता दें जैफ बेजोस ई-कॉमर्स कंपनी Amazon के मालिक हैं और इन्होंने इस कंपनी की शुरुआत एक गैराज में एक कंप्यूटर रखकर की थी लेकिन आज ये दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शामिल हैं।


जैफ बेजोस का प्रारंभिक जीवन | Early life of Jeff Bezos


Jeff Bezos

12 जनवरी, 1964 को न्यू मैक्सिको के अल्बुकर्क में जेफ बेजोस का जन्म हुआ था। इनकी शुरुआती पढ़ाई रिवर ओक्स एलीमेंट्री स्कूल से हुई और बचपन से ही जेफ बेजोस हमेशा कुछ अलग करने के बारे में सोचते थे। बुद्धिमान होने के साथ ही जेफ हर चीज को नए तरीके से करने के लिए जाने जाते थे। बहुत कम उम्र में ही ये विज्ञान और दूसरी चीजों से जुड़ गए थे। स्कूल की आगे की पढ़ाई करने जेफ टेक्सास के ह्यूस्टन में आकर रहने लगे थे। यहीं से इन्होंने आगे की पढ़ाई की, साल 1986 में प्रिसंटन यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और कम्प्यूटर विज्ञान में डिग्री से स्नातक की उपाधि भी ली। जेफ बेजोस ने स्ट्रीट में कंप्यूटर साइंस में ज्यादा काम किया क्योंकि बचपन से इन्हें कंप्यूटर के बारे में पढ़ना ज्यादा पसंद था। घर से तो जेफ संपन्न थे लेकिन उन्हें अपना नाम दुनिया में बनाना था और इसके लिए वे दिन-रात सोचते थे कि कैसे वे ऐसा काम करें जो सबसे अलग हो। जेफ ने एक अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए एक नेटवर्क बनाने में कई अहम काम किए। इसके बाद जेफ ने एक बैंक ट्रस्ट में एक उप-सभापति के रूप में काम किया। जेफ के माता-पिता ने 25000 एकड़ की जमीन पर पशु फार्म खोला छा और इनके परमाणु ऊर्जा आयोग में क्षेत्रीय अधिकारी पद पर काम किया।


जेफ बेजोस का करियर | Career of Jeff Bezos


आज के दौर में लोग पढ़ाई करके हाई पैकेज वाली नौकरी चाहते हैं। मगर जो इतिहास रचते हैं उनका अलग ही पैटर्न होता है। जेफ बेजोस ने फिटेल नाम की एक अंतराष्ट्रीय कंपनी से व्यापार के लिए एक नेटवर्क बनाने का काम किया और इसके बाद जेफ ने बैंक ट्रस्ट के उप-सभापति के रूप में भी काम किया। मगर वे किसी के लिए काम नहीं करना चाहते थे तो अक्सर कुछ ना कुछ सोचते रहते थे कि ऐसा क्या करें जिससे उन्हें अलग पहचान मिल सके। कंप्यूटर साइंस की फील्ड में कई कंपनियों के लिए काम किया। साल 1994 में जेफ ने न्यूयॉर्क से लेकर सिएटल तक देश भर में घूमे और फिर जेफ ने अपना काम करने के बारे में ठान ली। अपने माता-पिता के खाली पड़े गैराज में दो कंप्यूटर लेकर जेफ बैठ गए और इंटरनेट पर सर्फिंग करने लगे। नेट सर्फिंग करते समय उन्होंने सोचा कि इंटटरनेट पर एक बार में कम से कम 20 मिलियन लोग ऑनलाइन रहते है। ये उस दौर का आंकड़ा है और जेफ ने हमेशा ही दूरगामी की सोच रखी। इस तरह उनके दिमाग में आया कि क्यों ना ई-कॉमर्स पर काम किया जाए। जुलाई, 1994 में में इन्होंने अमेज़ॉन कंपनी की स्थापना की जिसकी शुरुआत ऑनलाइन बुक स्टोर से हुई।


इस तरह बना अमेज़ॉन का साम्राज्य | Amazon Business


Jeff Bezos

जैफ ने अपनी कंपनी का नाम पहले केडेब्रा.कॉम रखा था लेकिन तीन महीने के बाद इसका नाम अमेज़ॉन.कॉम (amazon.com) रख दिया था। इस कंपनी को शुरुआत में अच्छा रिस्पॉन्स मिलता था। कंपनी ने शुरु के पहले ही महीने में अमेरिका के 50 स्टेट और 45 दूसरे देशों में बुकिंग शुरु कर दी लेकिन उस समय ऑनलाइन शॉपिंग इतनी आसान भी नहीं थी। सितंबर, 1995 तक उनकी कंपनी हर हफ्ते करीब 20 हजार डॉलर की सेलिंग होने लगी थी। जेफ की दूसरगामी सोच ने इंटरनेट की क्रांति की शुरुआत के साथ ही ई-कॉमर्स कंपनी अमेज़ॉन की स्थापना कर दी थी। पहले अमेज़ॉन पर एक किंडल नाम की ई-बुक रीडर बाजार में उतारी गई, जिसे डाउनलोड करके पढ़ा जा सकता था। आज अमेज़ॉन ने हर किसी लाइफस्टाइल को आसान बना दिया है। घर बैठे आप अपनी मनपसंद चीजें चुटकियों में घर मंगा लेते हैं, साल 2007 तक amazon.com ऑनलाइन बिक्री की बड़ी ब्रांड बन चुकी थी। मगर जानकारी ना होने के कारण ज्यादातर विदेशों में भी अमेज़ॉन के बारे में पता था। इस कंपनी के जरिए जैफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर आदमी बन गए, ब्लूमबुर्ग इनडेक्स के अनुसार, 16 जुलाई, 2018 को Jeff Bezos Net Worth 150 बिलियन डॉलर रही है जो माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स की 55 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा है।


Amazon के Jeff bezos को उनके काम के लिए अवॉर्ड भी मिल चुके हैं। साल 1999 में टाइम्स पत्रिका ने साल के विशेष व्यक्ति के नाम से सम्मानित किया था। साल 2008 में U.S. News और वर्ल्ड रिपोर्ट ने जेफ बेजोस को अमेरिका के सर्वाधिक नेताओं में चुना था। जेफ को ई-कॉमर्स का पितामह कहा जाता है और उन्होंने खुद को हमेशा दूसरों से बेहतर साबित किया है। बाद में उन्हें टक्कर देने कई कंपनियां मार्केट में आईं लेकिन जेफ का मुकाबला अभी लोगों में नहीं है।


यह भी पढ़ें-

नेपोलियन बोनापार्ट का जीवन-परिचय

राणव के इन 13 गुणों से अनजान होंगे

क्या है यूनिफॉर्म सिविल कोड?

जानिए क्या है NRC?

अगला लेख: जरा हटके: बारात आने में हुई देरी तो दुल्हन ने दूसरा पटा लिया, ऐसी है दिलचस्प कहानी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 दिसम्बर 2019
देश में रेप और उसके बाद हत्या की घटना ज्यादा ही बढ़ने लगी है। हर लड़की एक डर के साए में जी रही है और सरकार से एक ही सवाल कर रही है कि क्या वे भारत में सेफ हैं। पहले दिल्ली वाले निर्भया केस और अब हैदराबाद जैसा केस सामने आया जिसके बाद देश में एक आक्रोश आ गया है। सभी एक ही सवाल कर रहे है कि उन्हें सजा
10 दिसम्बर 2019
11 दिसम्बर 2019
पिछले कुछ महीनों से सोशल मीडिया पर रानू मंडल का नाम खूब चर्चित रहा है। रानू मंडल को फिल्मों में गाने के लिए मुंबई बुलाया गया था लेकिन वे गानों से ज्यादा सोशल मीडिया पर किसी ना किसी वीडियो या मीम्स के जरिए छाई रहती हैं। रानू मंडल के ऊपर एक के बाद एक मीम्स या विवाद हो ही रहे हैं यहां तक उनके ऊपर ये भी
11 दिसम्बर 2019
13 दिसम्बर 2019
हैदराबाद गैंगरेप के बाद जब आरोपियों की एनकाउंटर में मार गिराया गया तो लोगों में निर्भया रेप केस में पाए गए दोषियों को भी फांसी देने की मांग तेज होने लगी। फिर खबरें आईं कि अब जल्द ही इन्हें फांसी दी जाएगी और एक दूसरी खबर साथ ही आई कि 16 दिसंबर के दिन ही निर्भया को इंसाफ मिलेगा क्योंकि इसी दिन उन लोगो
13 दिसम्बर 2019
10 दिसम्बर 2019
देश में रेप और उसके बाद हत्या की घटना ज्यादा ही बढ़ने लगी है। हर लड़की एक डर के साए में जी रही है और सरकार से एक ही सवाल कर रही है कि क्या वे भारत में सेफ हैं। पहले दिल्ली वाले निर्भया केस और अब हैदराबाद जैसा केस सामने आया जिसके बाद देश में एक आक्रोश आ गया है। सभी एक ही सवाल कर रहे है कि उन्हें सजा
10 दिसम्बर 2019
16 दिसम्बर 2019
राजधानी दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया कैंपस में रविवार की रात जो कुछ भी हुआ इससे देश अब तक वाकिफ हो चुका है। ये सभी छात्र थे या किस पक्ष के लोग थे इस बात की जांच होनी अभी बाकी है लेकिन कार्यवाही तो जरूर होगी, वहीं छात्रों का आरोप है दिल्ली पुलिस बिना वीसी के अनुम
16 दिसम्बर 2019
16 दिसम्बर 2019
दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने यूपी के उन्नाव से विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 363 (अपहरण), 366 (शादी के लिए मजबूर करने के लिए एक महिला का अपहरण या उत्पीड़न), 376 (बलात्कार और दूसरी संबंधित धाराओं) और POCSO के अंतर्गत दोषी ठहरा दिया गया है। इस मामले में आंकड़े लगाए जा रहे है
16 दिसम्बर 2019
13 दिसम्बर 2019
अगर आप मिडिल क्लास फैमिली से हैं तो जब घर में कोई सामान या कपड़े लेने की बातें होती हैं तो एक बात अक्सर सुनने को मिलती है। वो ये कि ये सामान जहां से आपने लिया है वो इस जगह से लेती तो आपको 100-200 रुपये कम में ही मिल जाता। ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि सामान कहां से लें कि सस्ता मिल जाए लेकिन सही जान
13 दिसम्बर 2019
11 दिसम्बर 2019
हर इंसान के जीवन में शादी बहुत अहम फैसला होती है तभी इसे करने से पहले लोग बहुत सोचते हैं क्योंकि इंसान अपने जीवन में शादी एक बार ही करता है। अगर ये शादी हमेशा चल गई और इंसान खुशी के साथ इसे बिताने लगे तो बस उसकी सारी परेशानी दूर हो जाती है लेकिन अगर ऐसा नहीं हो पाता तो हमेशा के लिए उन्हें भोगना पड़त
11 दिसम्बर 2019
13 दिसम्बर 2019
अगर आप मिडिल क्लास फैमिली से हैं तो जब घर में कोई सामान या कपड़े लेने की बातें होती हैं तो एक बात अक्सर सुनने को मिलती है। वो ये कि ये सामान जहां से आपने लिया है वो इस जगह से लेती तो आपको 100-200 रुपये कम में ही मिल जाता। ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि सामान कहां से लें कि सस्ता मिल जाए लेकिन सही जान
13 दिसम्बर 2019
10 दिसम्बर 2019
देश में रेप और उसके बाद हत्या की घटना ज्यादा ही बढ़ने लगी है। हर लड़की एक डर के साए में जी रही है और सरकार से एक ही सवाल कर रही है कि क्या वे भारत में सेफ हैं। पहले दिल्ली वाले निर्भया केस और अब हैदराबाद जैसा केस सामने आया जिसके बाद देश में एक आक्रोश आ गया है। सभी एक ही सवाल कर रहे है कि उन्हें सजा
10 दिसम्बर 2019
13 दिसम्बर 2019
देश में जहां एक ओर बेटियों को हमेशा पीछे रखा जाता है वहीं दूसरी ओर बेटियों ने हर क्षेत्र में कदम रखते हुए अपना नाम कमाया है। भारत की बेटियों ने देश के लिए ओलंपिक भी जीते हैं और अब एक और बेटी ओलंपिक में जाने की जोरदार तैयारी कर रही है। इस तैयारी में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली भी अपना यो
13 दिसम्बर 2019
18 दिसम्बर 2019
सितंबर के महीने में सुप्रीम कोर्ट द्वारा ये बात सामने आई कि देश में नागरिक संहिता लागू करने के लिए अब तक कोई प्रयास नहीं किया गया। जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस अनिरुद्ध बोस की पीठ ने एक मामले के फैसले में ये टिप्पणी की। अदालत ने इस बारे में कहा कि गोवा इसका शानदार उदा
18 दिसम्बर 2019
11 दिसम्बर 2019
पिछले कुछ महीनों से सोशल मीडिया पर रानू मंडल का नाम खूब चर्चित रहा है। रानू मंडल को फिल्मों में गाने के लिए मुंबई बुलाया गया था लेकिन वे गानों से ज्यादा सोशल मीडिया पर किसी ना किसी वीडियो या मीम्स के जरिए छाई रहती हैं। रानू मंडल के ऊपर एक के बाद एक मीम्स या विवाद हो ही रहे हैं यहां तक उनके ऊपर ये भी
11 दिसम्बर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x