महाकवि श्री माखनलाल चतुर्वेदी जी की पुण्यतिथी पर सादर श्रद्धांजलि

04 अप्रैल 2017   |  शब्दनगरी संगठन   (725 बार पढ़ा जा चुका है)

महाकवि श्री माखनलाल चतुर्वेदी जी की पुण्यतिथी पर सादर श्रद्धांजलि

कैसी है पहचान तुम्हारी
राह भूलने पर मिलते हो!!


पथरा चलीं पुतलियाँ मैंने विविध धुनों में कितना गाया
दायें बायें ऊपर नीचे दूर पास तुमको कब पाया
धन्य कुसुम पाषाणों पर ही तुम खिलते हो तो खिलते हो
कैसी है पहचान तुम्हारी
राह भूलने पर मिलते हो!!


किरणों से प्रगट हुए सूरज के सौ रहस्य तुम खोल उठे से
किन्तु अतड़ियों में गरीब की कुम्हलाए स्वर बोल उठे से
काँच कलेजे में भी करूणा के डोरे से ही खिलते हो
कैसी है पहचान तुम्हारी
राह भूलने पर मिलते हो!!


प्रणय और पुरुषार्थ तुम्हारा मनमोहिनी धरा के बल है
दिवस रात्रि बीहड़ बस्ती सब तेरी ही छाया के छल हैं
प्राण कौन से स्वप्न दिख गए जो बलि के फूलों खिलते हो
कैसी है पहचान तुम्हारी
राह भूलने पर मिलते हो!!



अगला लेख: उत्तर प्रदेश के सांसदों से प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ट्रांसफर-पोस्टिंग से रहें दूर



किरणों से प्रगट हुए सूरज के सौ रहस्य तुम खोल उठे से,
किन्तु अतड़ियों में गरीब की कुम्हलाए स्वर बोल उठे से,
काँच कलेजे में भी करूणा के डोरे से ही खिलते हो,
कैसी है पहचान तुम्हारी,
राह भूलने पर मिलते हो!!.....वाह क्या बात है...हिंदी साहित्य की लेखनी की अग्रिम पँक्ति के अग्रणियों में भी अपना अलग,अनूठा एवं अनुपम स्थान रखने वाले महाकवि को सादर भाव-भीनी श्रद्वांजलि,...देरी के लिए क्षमा प्रार्थी हूँ....

रेणु
04 अप्रैल 2017

महाकवि को विनम्र श्रद्धांजलि --

धन्यवाद रेणु जी

वाह वाह वाह

धन्यवाद हेमराज जी

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
25 मार्च 2017
Ed Sheeran’s का गाना 'शेप अॉफ यू' गाने को पार्टी और फंक्शन में तो आपने बहुत सुना होगा, गाने पर लोगों को थिरकते हुए भी देखा होगा। उड़ीसा की औरतों का ये सांसकृतिक नृत्य उस गाने पर ही कवर किया गया है। हर एक स्टेप इतने शानदार तरीके से कवर किया गया है कि मन मोह लेगा। कुछ दिनों पहले दिल्ली आईआईटी के स्टूड
25 मार्च 2017
21 मार्च 2017
रहते हैं दूर इसका मतलब नहीं की दिलो के बीच दूरियाँ हैं नज़दीक रह कर भी कई बार दिलों के फ़ासले कम नहीं होते हो नहीं तुम नज़रों के सामनेतो कोई बात नहींदुआओँ में हमारी रहोगे सदा ना हो रोज़ बात, तो कोई शिकवा नहींजब भी होती है तो मिलता है सुकून, यही काफ़ी है १३ मार्च २०१७जिनेवा
21 मार्च 2017
28 मार्च 2017
नव विक्रम संवत् २०७४ आपके जीवन में सुख समृद्धि लाए, नए अवसर लाए, जीवन को सुख की सुगन्‍ध से महकाए। जय श्री राम जय माता की...। विक्रम संवत् २०७४ की हार्दिक शुभकामनाएं (vikram sanvat 2074 kee shubhakaamanaaen) - YouTube
28 मार्च 2017
24 मार्च 2017
इस काम में राजस्थान का फरार गैंगस्टर आनंदपाल भी अंडरव‌र्ल्ड का सहयोग कर रहा है।
24 मार्च 2017
04 अप्रैल 2017
भारतीय स्टेट बैंक संबंधित छह बैंकों से विलय के बाद दुनिया के 50 सबसे बड़े बैंकों में शामिल हो गया है. हालांकि आम आदमी की जेब पर इससे बोझ बढ़ने जा रहा है. विलय के बाद एसबीआई ने कई सुविधाओं के लिए लगने वाले शुल्क में वृद्धि कर दी है. विलय के बाद छह बैंकों के ग्राहकों को भी ये बढ़ी हुई कीमत चुकानी होगी.जा
04 अप्रैल 2017
18 अप्रैल 2017
स्व-वित्त पोषित संस्थान में जो विराजते हैं ऊपर के पदों पर, उनको होता है हक निचले पदों पर काम करने वालों को ज़लील करने का, क्योंकि वे बाध्य नहीं है अपने किये को जस्टिफाई करने के लिए . स्व-वित्त पोषित संस्थान में आपको नियुक्त किया जाता है, इस शर्त के साथ कि खाली समय में आप सहयोग करेंगे संस्थान के अन्
18 अप्रैल 2017
03 अप्रैल 2017
क्
क्यों छू रही हैं यह परछाईयाँ ?,अज़ब हालात में हैं यह तनहाईयाँ।जाने ख़्वाहिशेँ मरी जा रही हैं क्यों?,हिल रहा है यह तन और चल रही पुरवाईयाँ।ग़रदिशे ज़िन्दगी है क्यों? ,और दिलों में क्यों रुसवाईयाँ ?तड़पती अब तो तमन्ना भी है,अब दूर ना हो रही यह बेहरुखियाँ।फ़ना क्यों ज़िन्दगी होती है सबकी ?,फिर क्यों यह रह जाती
03 अप्रैल 2017
13 अप्रैल 2017
कोशिश बहुत की हैं तुम्हें भुलाने की मगर जब भी तुम रूबरू होते हो बीते पल, सुहानी यादें ताज़ा हो जाती हैं कुछ ज़ख़्म हरे हो जाते हैंकुछ नए मिल जाते हैं मुस्कुरा कर इन्हें छुपा तो लेता हूँमगर, दर्द पानी बन छलक जाता है ख़ुशी के आँसु हैं कह कर दुनिया को बहकाता हूँदोस्त मगर समझ जाते हैं जब भी तुम रूबरू हो
13 अप्रैल 2017
01 अप्रैल 2017
समस्‍या का समाधान हम खोजते नहीं हैं। असफलता का कारण भी कहां खोजते हैं... आगे असफलता से निराशा कयों (Asaphalataa se niraashaa k‍yon) - YouTube
01 अप्रैल 2017
24 मार्च 2017
सिद्धू को एक रणनीति के तहत पंजाब चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी की तरफ से लाया गया था।
24 मार्च 2017
23 मार्च 2017
दिल्ली में एमसीडी का चुनाव है. उसको लेकर खूब पॉलिटिक्स भी चल रही है. दिल्ली में बीजेपी के मुखिया हैं मनोज तिवारी. इसी सब के कारण अभी हाल में ही मनोज तिवारी का एक वीडियो भी आया, जो बड़ा वायरल हुआ. उसमें मनोज एक महिला टीचर को हड़का रहे थे. उसके बाद भी उन्होंने उसके लिए
23 मार्च 2017
29 मार्च 2017
लोकसभा में आज गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) से जुड़े चार बिलों पर ऐतिहासिक चर्चा शुरु हो गई है लेकिन चर्चा के दौरान जब कैमरा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर घूमा तो उनका नया लुक नज़र आया.मोदी अपनी चिरपरिचित गहन चिंतन की मुद्रा में बैठे थे और उनकी दाढ़ी बढ़ी हुई नज़र आ रही थी. मोदी ने बैठे हुए मूंछ
29 मार्च 2017
22 मार्च 2017
दाएं विन डीज़ल की असली फ़ोटो और बाएं मॉर्फ की हुई फ़ोटो. 19 मार्च 2017. यूपी को नया मुख्यमंत्री मिला. योगी आदित्यनाथ. आख़िरी मोमेंट तक नहीं क्लियर था कि यूपी का सीएम कौन बनेगा. लेकिन 18 मार्च की दोपहर से जो बातें उठनी शुरू हुईं तो मालूम चला कि मामले पर मुहर लग चुकी है. और बड़े लोगों ने फ़ैसला सुना दिया है
22 मार्च 2017
18 अप्रैल 2017
उम्मीद की एक किरणहर बारदिल के दरवाजे परजाने किस झरोखे सेकुछ यूँ झांकती हैके कुछ पल के लिए ही सहीचेहरे पे ख़ुशी की झलकसाफ दिखाई देती है,मन खुश होता है,दिल खुश होता है,फिर जाने कैसेचिंताओं की परछाईउस किरण के सामनेआ जाती हैसब दूर अँधेरा छा जाता हैदिल डूब जाता है।धीरे धीरे लड़खड़ाती सीफिर गुम हो जाती हैवो
18 अप्रैल 2017
24 मार्च 2017
4,979.97 करोड़ रुपये नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फंड से और 40.67 करोड़ रुपये नेशनल रूरल ड्रिंकिंग वाटर प्रोग्राम से दिए जाएंगे।
24 मार्च 2017
13 अप्रैल 2017
रि
रिश्तों की पहचान सब को हैफिर भी इनकी समझ कितनो को है रिश्तों से उम्मीद सब को है फिर भी इन्हें निभाते कितने हैं रिश्तों में मिठास की ज़रूरत सबको है फिर भी इनमे मिठास घोलते कितने हैं रिश्तों की कड़वाहट लगती बुरी सब को है फिर भी इसे ख़त्म करने की कोशिश करते कितने हैं रिश्तों से ज़िंदगी बेहतर बनाने की
13 अप्रैल 2017
15 अप्रैल 2017
कविता के गाँव मेंकविता के गाँव मेंकई तरह की कलम उगी थीकोई फूली थी कोई पचकी थीकोई स्याही में डूबी थीकोई लिखकर टूटी थीप्राचीन नदी के किनारेएक प्राचीन कुटी थीअबूझ भाषाओँ की चीखसमय के जंगल में गूंजी थीसूने कान में आवाजों के डोरेसूत्र बन जिह्वा पर बोलेध्वनि के चित्र खोलेकविता विचित्र होसंतप्त जीवन कीआह्ल
15 अप्रैल 2017
21 मार्च 2017
मे
मेरे हाथों की लकीरों में तू ना सही मेरे ख़यालों में रहेगी सदा मेरी ज़ुबान पर तेरा नाम ना सही मेरे अहसास में तू रहेगी सदा मेरे दिल में तेरी तस्वीर ना सहीमेरे ख़्वाबों में तू रहेगी सदा मेरी क़िस्मत तुझ से जुड़ी ना सही मेरी ज़िंदगी तुझ से जुड़ी रहेगी सदा ३ मार्च २०१७जिनेवा
21 मार्च 2017
28 मार्च 2017
शपथ लेते ही मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ की सरकार ने देखते ही देखते पूरी रफ्तार पकड ली है। इसी का नतीजा है कि अधिकांश मत्री निर्धारित समय पर सचिवालय पहुंचने लगे हैं। इसी के साथ ही मुख्य मंत्री योगी आदित्य नाथ के अपने सचिवालय, हजरतगंज कोतवाली और मेडिकल कालेज के औचक निरीक्षण से खासा हडकंपा मच गया है।
28 मार्च 2017
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x