स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर ये गलती देख रजनीकांत भड़क जाएंगे!

02 नवम्बर 2018   |  अखिलेश ठाकुर   (101 बार पढ़ा जा चुका है)

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर ये गलती देख रजनीकांत भड़क जाएंगे!

31 अक्टूबर, 2018. ये तारीख इतिहास में दर्ज हो गई. वजह है स्टैच्यू ऑफ यूनिटी. देश के पहले गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की मूर्ति जो दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसका उद्घाटन किया. इस मूर्ति को लेकर लोगों की अलग-अलग राय सामने आई. लेकिन एक विवाद भी सामने आया है. विवाद का कारण बन रहा है मूर्ति के सामने लगा एक बोर्ड. इस बोर्ड पर कई भाषाओं में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी लिखा हुआ है. इनमें भारतीय भाषाएं भी शामिल हैं और विदेशी भाषाएं भी. लेकिन तमिल भाषा में जो लिखा हुआ है उसका मतलब स्टैच्यू ऑफ यूनिटी नहीं है. तमिल में लिखे हुए शब्दों का कोई मतलब ही नहीं है. ये बस दिखाने के लिए कुछ भी लिख देने जैसा है. इस बोर्ड के फोटो को देखने के बाद तमिल लिखने-बोलने वाले लोगों ने सोशल मीडिया पर सरकार को निशाने पर लिया.


अधिकारियों का क्या कहना है?

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक सरदार सरोवर नर्मदा निगम के एक उच्च अधिकारी ने कहा कि तमिल भाषा के शब्दों में लिखे बोर्ड की तस्वीरें फेक हैं. वहां पर ऐसा कोई साइन बोर्ड मौजूद नहीं था. सरदार पटेल को दी गई श्रद्धांजलि को खराब करने के लिए ये शरारती तत्वों की कारस्तानी है. असली साइनबोर्ड बस वही है जिस पर स्टैच्यू का लोगो है और उस पर भारत सरकार का प्रॉजेक्ट लिखा हुआ है. विदेशी भाषाओं में बोर्ड लगाने का हमारा कोई इरादा नहीं है. हम विदेशी पर्यटकों के आने की उम्मीद नहीं कर रहे हैं खासकर रूस और यूरोप से. अगर कोई साइनबोर्ड लगाया भी जाएगा तो वो सब भारतीय भाषाओं में होगा जो भारत की यूनिटी को दिखाता है.


लेकिन CMO का ट्वीट तो कुछ और कह रहा है

सरकारी अधिकारियों ने चाहे जो दावा किया हो, उनकी सरकार के मुखिया यानी सीएम विजय रूपाणी के ऑफिस से हुआ एक ट्वीट उनके ही दावे को पलट कहा है. 31 अक्टूबर सुबह 10 बजकर 5 मिनट पर गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यालय से किए गए ट्वीट में चार तस्वीरें ट्वीट की गईं.


More pictures from the grand event marking the dedication of #StatueOfUnity to the nation pic.twitter.com/JXcMO5dvj4

— CMO Gujarat (@CMOGuj) October 31, 2018


इनमें से एक फोटो उसी साइन बोर्ड की है. इस फोटो में तमिल भाषा में लिखे हुए शब्दों पर सफेदी पोती हुई है. चाहे ये कंप्यूटर सिस्टम से एडिट किया गया हो या फिर जहां ये बोर्ड लगा हुआ हो उस पर सफेदी की हो. लेकिन अधिकारियों का दावा इस ट्वीट से गलत साबित हो रहा है.


CMO के <a href='/hashtag/twitter'>ट्विटर</a> से शेयर की गई फोटो.

CMO के ट्विटर से शेयर की गई फोटो.

https://www.thelallantop.com/news/statue-of-unity-is-written-wrong-in-tamil-language-at-sardar-patels-statue-in-gujarat/

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पर ये गलती देख रजनीकांत भड़क जाएंगे!

अगला लेख: अमृतसर रेल हादसा: शव घर लाने के लिए मांग रहे थे 40 हजार, पत्नी को व्हाट्सएप पर फोटो दिखा कर किया दाह-संस्कार



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 अक्तूबर 2018
अब न तो लाठियों का दौर है और न ही लठैतों का जोर है, फिर भी सुलतानुपर के ऐतिहासिक पांडेय बाबा मेले में कई करोड़ रुपयों की लाठियों का कारोबार होता है। प्रदेश के कई जिलों से पांडेय बाबा मेले में आये लोग बड़े पैमाने पर यहां से लाठियों की खरीदारी करते हैं। उल्लेखनीय है कि फैजाब
22 अक्तूबर 2018
23 अक्तूबर 2018
इसी दिन भगवान् कृष्ण महारास रचाना आरम्भ करते हैं। देवीभागवत महापुराण में कहा गया है कि, गोपिकाओं के अनुराग को देखते हुए भगवान् कृष्ण ने चन्द्र से महारास का संकेत दिया, चन्द्र ने भगवान् कृष्ण का संकेत समझते ही अपनी शीतल रश्मियों से प्रकृति को आच्छादित कर दिया। उन्ही किरणों
23 अक्तूबर 2018
31 अक्तूबर 2018
गुजरात में बनी सरदार वल्लभभाई पटेल की मूर्ति दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा है। इस प्रतिमा के आसपास के क्षेत्र को पर्यटन के रूप में विकसित किया जा रहा है। आखिर जानते हैं इस प्रतिमा को देखने के लिए आम आदमी को कितने रुपए चुकाने होंगे?मूर्ति में दो लिफ्ट लगी हैं, जो इसी में सरदार पटेल के सीने तक जाती हैं
31 अक्तूबर 2018
31 अक्तूबर 2018
15 अगस्त 1947 को जब भारत आजाद हुआ तो उससे कुछ महीनों पहले दुनिया की सर्वाधिक प्रतिष्ठित मैग्जीन्स में से एक टाइम मैग्जीन के कवर पर एक भारतीय नेता छा गया। जनवरी 1947 में कवर पेज पर इस नेता को लेकर टाइम ने टाइटल लगाया 'द बॉस'। वह नेता थे आजाद भारत के पहले उप प्रधानमंत्री, पहले गृहमंत्री, देश के सर्वाध
31 अक्तूबर 2018
23 अक्तूबर 2018
पंजाब के अमृतसर में विजयादशमी के दिन रावण वध के दौरान के हुए ट्रेन हादसे में मारे गये मजदूरों के परिजनों ने पंजाब सरकार पर शव भेजने के लिए कोई इंतजाम नहीं करने का आरोप लगाया है. बरौली के सलोना निवासी मृत राजेश भगत के भाई भूलन भगत ने कहा कि अमृतसर जाने के लिए पैसे नहीं थे,
23 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
नवरात्रि के पर्व का समापन का समय धीरे-धीरे पास आ रहा हैं, माँ दुर्गा के विसर्जन का दिन 19 अक्टूबर को हैं| ऐसे में जब नवरात्रि के शुरुआत होती हैं तो उस समय माँ दुर्गा की चौकी और कलश की स्थापना की जाती हैं| ऐसे में जब माँ दुर्गा का विसर्जन करना होता हैं तो उनके साथ कलश, नार
19 अक्तूबर 2018
22 अक्तूबर 2018
पंजाब के अमृतसर में रावण दहन के दौरान हुए रेल हादसों में मरने वालों का आंकड़ा 61 तक पहुंच चुका है। मारे गए कई लोगों की तो अभी तक पहचान भी नहीं हो पाई है। ऐसे लोगों की पहचान करने की कोशिशें की जा रही हैं। साल के सबसे खतरनाक रेल हादसे में किसी के पिता मारे गए तो किसी का बेट
22 अक्तूबर 2018
31 अक्तूबर 2018
भारत के आयरन मैन कहे जाने वाले सरदार वल्लभभाई पटेल की याद में गुजरात में 'स्टैचू ऑफ यूनिटी' का निर्माण किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नर्मदा जिले में आज इस प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इस मूर्ति की कई ऐसी खासियत है, जिसे दुनिया में पहले कभी नहीं देखा गया। यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है, जिसक
31 अक्तूबर 2018
20 अक्तूबर 2018
बारात में सड़कों पर नाचने में लोगों को जो मज़ा आता है वो किसी और काम में नहीं। आप भी सड़क पर जाती किसी बारात को देखकर कुछ पल रुक कर बारातियों और बग्घी पर बैठे दुल्हे को एक नज़र ज़रूर देखते होंगे, लेकिन ज़ल्द ही शादी का ऐसा नज़ारा इतिहास बन जाएगा, क्योंकि अब सड़कों पर न तो
20 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
19 अक्टूबर को पूरे विश्व में दशहरा (Dussehra) मनाया जाएगा. इस दिन हर गली-नुक्कड़ और बड़े-बड़े मैदानों में रावण (Ravana) का पुतला जलाया जाएगा. बुराई पर अच्छाई की जीत का ये जश्न धूमधाम से मनाया जाएगा. मैदानों में मेले लगेंगे और मेले में राम और रावण से जुड़े खेल-खिलौने दिखेंगे. एक तरफ परिवार मिलकर चाट
19 अक्तूबर 2018
20 अक्तूबर 2018
25000 साल पुराना है भारतीय करेंसी का इतिहास. तब से लेकर आज तक इसने अच्छे-बुरे सारे दौर देखे हैं. फ़िलहाल ये अपने बुरे दौर से गुज़र रही है. बेतहाशा मंहगाई, अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में हो रहे बदलाव और फ़ॉरन रिज़र्व के कम होने चलते आज 1 डॉलर की क़ीमत 74 रुपये के बराबर हो चुकी ह
20 अक्तूबर 2018
31 अक्तूबर 2018
भारत के आयरन मैन कहे जाने वाले सरदार वल्लभभाई पटेल की याद में गुजरात में 'स्टैचू ऑफ यूनिटी' का निर्माण किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नर्मदा जिले में आज इस प्रतिमा का अनावरण करेंगे। इस मूर्ति की कई ऐसी खासियत है, जिसे दुनिया में पहले कभी नहीं देखा गया। यह दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा है, जिसक
31 अक्तूबर 2018
31 अक्तूबर 2018
गुजरात में बनी सरदार वल्लभभाई पटेल की मूर्ति दुनिया में सबसे ऊंची प्रतिमा है। इस प्रतिमा के आसपास के क्षेत्र को पर्यटन के रूप में विकसित किया जा रहा है। आखिर जानते हैं इस प्रतिमा को देखने के लिए आम आदमी को कितने रुपए चुकाने होंगे?मूर्ति में दो लिफ्ट लगी हैं, जो इसी में सरदार पटेल के सीने तक जाती हैं
31 अक्तूबर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x