हिरोशिमा पर परमाणु हमले को बयां करती हैं ये 13 तस्वीरें

08 अगस्त 2019   |  स्नेहा दुबे   (481 बार पढ़ा जा चुका है)

हिरोशिमा पर परमाणु हमले को बयां करती हैं ये 13 तस्वीरें

दुनिया के इतिहास में ऐसी-ऐसी घटनाएं हुई हैं कि बहुत से लोग प्रभावित हुए हैं और इसके बारे में हमें हमारे पूर्वजों से पता चला है। जिस तरह से भारत अंग्रेजों का गुलाम बन गया था वैसे ही दूसरे देशों के साथ भी बहुत कुछ हुआ है जिसके प्रमाण इतिहास में मिलते हैं। कुछ ऐसा ही 6 अगस्त, 1945 में भी हुआ था जब अमेरिका ने जापान के शहर हिरोशिमा पर परमाणु हमला कराया था। अमेरिका ने लिटिल ब्वॉय बम गिराकर जापान के हीरोशिमा और नागासकी में भयंकर तबाही मच दी थी। हम आपके समझ ऐसी ही कुछ तस्वीरें लाएं हैं जिनके जरिए कुछ बातें बनाएंगे।


हिरोशिमा पर हमले की कुछ तस्वीरें


हिरोशिमा


1. द्वितीय विश्व युद्ध के समय हिरोशिमा पर परमाणु बम गिराने वाली टीम B29 बॉम्बर हवाई जहाज Enola Gay के साथ पूरी टीम।


हिरोशिमा


2.Enola Gay ने हिरोशिमा का उड़ान कुछ ऐसे भरा था।


हिरोशिमा


3. बम गिराते समय हिरोशिमा शहर का नजारा कुछ ऐसा था।


हिरोशिमा


4. हिरोशिमा शहर में कुछ ऐसा मंजर हो गया था।


हिरोशिमा


5. बमबारी के बाद प्रीफेक्चरल इंडस्ट्री प्रमोशन बिल्डिंग के परखच्चे उड़ गए थे जिसका मंजर कुछ ऐसा था।


हिरोशिमा


6. हीरोशिमा शहर में बमबारी के बाद कई ऐतिहासिक इमारतों का कुछ ऐसा हाल हो गया था।


हिरोशिमा


7. बमबारी के बाद ये सिनेमाहॉल तहस-नहस हो गया था।


हिरोशिमा


8 बमबारी के बाद हिरोशिमा की सड़कों पर लोग इन हालातों में रहने पर मजबूर थे।


हिरोशिमा


9. भारी बमबारी के बाद ये दोनों भाई अपनी जान बचाते हुए नजर आए थे।


हिरोशिमा


10. Shinichi Tetsutani नाम का एक बच्चा अपने घर से बाहर साइकिल चला रहा था, लेकिन वो बच नहीं पाया।


हिरोशिमा


11. साल 1948 में हिरोशिमा शहर का नजारा कुछ ऐसा था।


हिरोशिमा


12. बमबारी के तीन सालों के बाद भी लोग मास्क लगाकर घर से निकलते थे।


हिरोशिमा


13. हिरोशिमा पर अमेरिका ने विनाशकारी बम गिराए थे, ये समझने में जापान की सरकार को तीन घंटे लग गए थे।

हिरोशिमा पर परमाणु हमले को बयां करती हैं ये 13 तस्वीरें

अगला लेख: पेट्रोल, डीजल की कीमतों में भारी उछाल, पट्रोल 117 और डीजल 135 रुपये प्रति लीटर !



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 अगस्त 2019
आजादी कौन नहीं चाहता....एक पक्षी भी पिंजड़े में फड़फड़ाता है क्योंकि उसे आजादी चाहिए होती है। जब बकरे को काटने के लिए ले जाते हैं तब भी आजादी की चाहत लिए बकरा चिल्लाता रहता है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आजादी है तो जीवन है वरना इंसान घुटने लगता है। मगर आज से करीब 73 साल पहले भारत देश गुलाम था अंग्र
12 अगस्त 2019
31 जुलाई 2019
Pratlipi एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां खुले विचारों से आप कुछ भी लिख सकते हैं। ये एक ऑनलाइन वेबसाइट है जहां पर आप किसी भी विषय पर लिखकर खुद पब्लिश कर सकते हैं। इसका मुख्यालय बैंगलुरू में है और इस वेबसाइट पर आ
31 जुलाई 2019
08 अगस्त 2019
भारत में हर तरह की बातें होती हैं लेकिन महिलाओं को लेकर सुरक्षा का मामला बिल्कुल सीरियसली नहीं लिया जाता। यहां पर मां-बहन की गालियां देकर लोग इसमें अपनी वाहवाही समझते हैं जबकि वो लोग नहीं जानते हैं वे अपने ही घरवालों का समाज में मजाक बनवा रहे हैं। भारत की महिलाएं सुरक
08 अगस्त 2019
26 जुलाई 2019
बैंकों का राष्ट्रीयकरण 19 जुलाई 1969 को हुआ जो उस वक़्त की एक धमाकेदार खबर थी. बैंक धन्ना सेठों के थे और सेठ लोग राजनैतिक पार्टियों को चंदा देते थे. अब भी देते हैं. ऐसी स्थिति में सरमायेदारों से पंगा लेना आसान नहीं था. फिर भी तत्कालीन प्रधान मंत्री इंदिरा गाँधी ने साहसी कद
26 जुलाई 2019
29 जुलाई 2019
विजय सोपा नाही
29 जुलाई 2019
31 जुलाई 2019
दुनिया में बहुत सी चीजें अजीबों गरीब हैं और लोगों को ऐसी ही चीजें पसंद होती है। अगर किसी इंसान का नाम किसी सेलिब्रिटीज से मिलता जुलता है तो लोग उनका मजाक बनाने लगते हैं। कुछ ऐसा ही हाल मध्य प्रदेश के इस युवक के साथ हुआ जब अपने नाम के कारण कुछ परेशानियों का सामना करना
31 जुलाई 2019
01 अगस्त 2019
जब कोई नई सरकार आती है तो जनता को उम्मीद हो जाती है कि ये सरकार उनकी उम्मीदों पर खरा उतरेगी। उनके लिए सबसे भारी महंगाई को कुछ तो कम करेगी लेकिन जब ऐसा नहीं होता है तब जनता भड़क जाती है और यही सरकार को गिराने का असरदार काम करती है। अब मे
01 अगस्त 2019
18 अगस्त 2019
आज अगर कोई कहे कि घर में पूजा है, तो ये माना जा सकता है कि “सत्यनारायण कथा” होने वाली है। ऐसा हमेशा से नहीं था। दो सौ साल पहले के दौर में घरों में होने वाली पूजा में सत्यनारायण कथा सुनाया जाना उतना आम नहीं था। हरि विनायक ने कभी 1890 के आस-पास स्कन्द पुराण में मौजूद इस संस्कृत कहानी का जिस रूप में अन
18 अगस्त 2019
31 जुलाई 2019
दुनिया में बहुत सी चीजें अजीबों गरीब हैं और लोगों को ऐसी ही चीजें पसंद होती है। अगर किसी इंसान का नाम किसी सेलिब्रिटीज से मिलता जुलता है तो लोग उनका मजाक बनाने लगते हैं। कुछ ऐसा ही हाल मध्य प्रदेश के इस युवक के साथ हुआ जब अपने नाम के कारण कुछ परेशानियों का सामना करना
31 जुलाई 2019
12 अगस्त 2019
साल 2014 में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद देश के लोगों ने इसके नेतृत्व करने वाले नरेंद्र मोदी को मान लिया था। इसके 5 सालों के बाद लोकसभा चुनाव-2019 में भी उससे ज्यादा वोट्स से जीत हासिल करने के बाद लोगों को लग गया कि अब कुछ भी हो जाए लेकिन नरेंद्र मोदी में कुछ बात तो है जिससे जनता इनसे आसानी से कनेक्ट
12 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x