माँ के लिएँ शायरी और टेस्ट मैसेज हिंदी में | GoSahayata पर

23 मई 2017   |  प्रदीप कुमार   (656 बार पढ़ा जा चुका है)

माँ के लिएँ शायरी और टेस्ट मैसेज  हिंदी में | GoSahayata पर

दोस्तों घर पथ्तरों से बनता हैं ,लेकिन परिवार माँ -पिता से ||


हजारो फूल चाहिए एक माला बनाने के लिए,

हजारों दीपक चाहिए एक आरती सजाने के लिए |

हजारों बून्द चाहिए समुद्र बनाने के लिए,

पर “माँ “अकेली ही काफी है बच्चो की जिन्दगी को स्वर्ग बनाने के लिए..!!

**********************@@**********************************************


माँ ना होती तो वफ़ा कौन करता,

ममता का हक़ अदा कौन करता ||

रब हर एक माँ को सलामत रखना,

वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा ||


ऐसी और शायरी , मैसेज पढ़ने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें :-

http://www.gosahayata.tk/2017/05/mothers-day-shayari-sms-quotes.html


अगला लेख: अपने नाम की फ्री रिंगटोन डाउनलोड कैसे करें ?



शुक्रिया

रेणु
24 मई 2017

बहुत मधुर ममता भरा संग्रह है --

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
14 मई 2017
है
है वो आज अकेली क्योंनों महीने रखा अपनी कोख में जिसने लगती है वो आज बोझ क्योंकाट कर अपना पेट, भरा पेट हमारा सो जाती आज, वो ख़ाली पेट क्योंआने नहीं देती थी हमारी आँखों में आँसुउसकी आँखों में रहते हैं आँसु, आज दिन रात क्यों जिसके बोल कभी लगते थे अमृत उसी के दो शब्द लगते
14 मई 2017
23 मई 2017
आग सूरज में होती है , तड़पना जमी को पड़ता हैं | मौहब्बत निगाहें करती हैं ,तड़पना दिल को पड़ता हैं || सीने में लगी है , आग दुनियां में लगा दूँगा | जिस दिन उठेगी तेरी डोली, उस दिन पूरी दुनियाँ को जला दूँगा ||
23 मई 2017
14 मई 2017
काश, मेरी भी माँ होती! मैं उसे अपनी माँ बुलाता।प्रेम जताता, प्यार लुटाता,चरण दबाता, हृदय लगाता,जब कहती मुझे बेटा अपना, जीवन शायद सफल हो जाता, काश, मेरी भी माँ होती! मैं उसे अपनी माँ बुलाता।मैं अनाथ बिन माँ के भटका, किसको अपनी मात् बताता,जब डर लगता इस दुनियाँ का, किस
14 मई 2017
02 जून 2017
नमस्कार, भारत में आज भी बहुत से ऐसे लोग है जो Internet तो चलाना जानते है, लेकिन अपना मोबाइल फोन Telecom शॉप से ही रिचार्ज करवाते हैं |और वहाँ आपको रिचार्ज Amount के पुरे पैसे देने होते हैं| लेकिन में यहाँ आपको पुरे पैसे नहीं देने है इसके लिए नहीं कह रहा हूँ,बल्कि
02 जून 2017
19 मई 2017
हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक सभा में अफसरों से कहाँ की आप महिलाओं से धेर्य रखना सीख सकते हैं |लेकिन माँ का ऐसा जीवन होता है की हम भी अपनी माँ से बहुत कुछ सीख सकते हैं |जिनमें से कुछ प्रमुख बातों को आज हम इस लेख में जानेगें | सबको साथ लेकर चलना : हर कोई चाहता है की सब लोग उसे पसंद कर
19 मई 2017
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x